Rajasthani Shayari and Status in Hindi

Rajasthani Shayari & Status in Hindi| राजस्थानी शायरी और स्टेटस

 

 

दिल में प्यार है
आंख्या में काजल है,
ओ मारो राजस्थान है
जगह-जगह मीठा फल है।

रेगिस्तान में भी सुखी झाडीया भी हरी हो जाती है
जब राजस्थान वाले किसी के साथ खड़े हो जाते है

Rajasthani Shayari in Hindi

अंगरेजी म्हानै आवै कोनी,
न हिंदी रौ घणौ ज्ञान,
राजस्थान रा बाशिन्दा हां,
राजस्थानी म्हारी पिछाण।।

मेहनत करके एक दिने इतो ऊंचो पहुचणो है
कि नीचू देखू तो धूझणी छूटने लागजे

राजस्थान पर शायरी
रामजी थाने सगळा ने निरोगा राखै
कमाई दुनी चोगुणी बढ़ावे,
टाबरिया आपस्यूं भी ऊँचा चढ़े
घर आळी या घर आळा री मोकळी मेहरबानी रेवे।

राजस्थान में अलग-अलग शहर वाले लोग की अलग ही
पहचान है आधी राजस्थानी और आधी हरयाणवी
कहने का मतलब सारी ही भाषा बोलते है

Rajasthani Shayari in Hindi

बरसात आऊं आऊं करे,
सरकार जाऊं जाऊं करे,
कोरोना खाऊं खाऊं करे,
सचिन कुछ पाऊं पाऊं करे,
दूर बैठी मौसी म्याऊं म्याऊं करे।

बातां प्यार सूं करां म्हे
जरूरत पड़े तो लट्ठ गाड़ दा,
शांति गा प्रतीक हों पण
दुश्मनों के सिर फाड़ दा।

ना हमे है टेंसन ना फिकर,
जहाँ जयपुर जिलावाले खड़े होते है
वहाँ matter हमेशा बड़े होते हैं
वहाँ राजस्थानी भी खड़े होते हैं

ओ पियाजी ,ओ ढोला म्हारा..
थानी याद घणी तड़पावे है,
में तो सारी सारी रात जागु सूं राता में..

म्हारे राजस्थान आळा भी दिल का बादशाह हो या करे
सुणा भी दिल की और करा खुद दिल की..

Rajasthani Shayari in Hindi

मन्ने नींद कट्ठे आवे है!!”
प्रीत पुरानी थारी म्हारी,
जीयू पानी संग मीन, दिन कटते हैं सुरत पे तेरी,
रैन कटे रोये , हिवड़े बीच हैज घणो।

मेरे जीवन गी हर शाम
रेवे है थारे नाम,
हिवड़े में भरी है खुशियां
बस हर पल जपता रहता हूँ तेरा नाम।

आगे कुआं पीछे खाई,
बाहर कोरोना अन्दर लुगाई।

साँची साँची कहु एक बात,
थारे बिना किंया बीते म्हारी रात,
म्हारी नजरो से जद भी तू दूर जावे,
मन्नै थारी ओळू आवे।

सुलग रही है रेत
लगी है प्यास,
कहीं मिल जाये ठंडी छाया
बस यही है म्हारी आस।

अगर राजस्थानी वाले कोई पत्थर मारे,
तो उसका जवाब Ak- 47 से देते है

कस्टमर केयर आळी छोरी,
म आपकी क्या सेवा कर सकती हूँ,
Me- यार एक काम कर मेरी माँ पीहर गएड़ी है,
दो दिन पोठा गेर द म्हारा

तपती धरती ढ़ळतो सूरज
हिवडे में है मरूगीत,
बाटां जोवे गोरी री नजरा
कद आवे म्हारे परदेसी प्रीत।

Rajasthani Shayari in Hindi

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.