माघ मेला के लिये परंपरानुसार साधुओं को आवंटित होगी भूमि

मेलाधिकारी, प्रयागराज मेला प्राधिकरण श्री शेषमणि पाण्डेय के अनुसार माघ मेला 2021-22 में साधु-संतो, संस्थाओं व अन्य को परम्परानुसार भूमि/सुविधाओं का आवंटन किया जाना है जिसके लिए आवश्यक कार्यवाही प्रारम्भ कर दी गयी है और चरणबद्ध तरीके से जल्द ही यह कार्य पूरा हो जायेगा।

इस क्रम में होगा भूमि का आवंटन….

प्राप्त जानकारी के मुताबिक माघ मेला 2021-22 में दिनांक 22 एवं 23.12.2021 को दण्डी स्वामी नगर, दण्डी बाड़ा मार्ग में भूमि का आवंटन किया जायेगा।इसी प्रकार 24 व 25.12.2021 को खाकचैक, 26 व 27.12.2021 को आचार्य स्वामी नगर (आचार्य बाड़ा), 31.12.2021 को संगम लोवर मार्ग, संगम अपर मार्ग एवं सरस्वती मार्ग, महावीर जी मार्ग, 01.01.2022 को अन्नपूर्णा मार्ग, 02.01.2022 को तुलसी मार्ग एवं जी0टी0 रोड, 03.01.2022 को त्रिवेणी मार्ग, 04.01.2022 को काली मार्ग, 05.01.2022 को सेक्टर 1 एवं 2, परेड, शास्त्री गाटा, कबीर नगर, समुद्रकूप मार्ग एवं इण्टर लाॅकिंग मार्ग से0-3, रामानुज मार्ग, अरैल एवं अन्य स्थानों की संस्थाओं के लिए भूमि का आवंटन किया जायेगा।

इन नियमो का पालन करने वालों को ही मिलेगी सुविधा…

सुविधा पर्चियों की प्राप्ति हेतु पहचानयुक्त फोटो एवं आधार कार्ड प्रस्तुत करना अनिवार्य है। अपरिहार्य परिस्थितियों में उपरोक्त तिथियों में परिवर्तन सम्भव है। जिन संस्थाओं/प्रयागवालों द्वारा विगत वर्ष कुम्भ/महाकुम्भ/माघ मेला अथवा अन्य किसी वर्षों में टिन, टेंटेज, फर्नीचर की सुविधायें प्राप्त कर वापस नहीं की गयी है, उन्हें वर्तमान वर्ष में किसी भी प्रकार की भूमि एवं सुविधा देय नहीं होगी।

प्रत्येक शिविर धारक को मेले की सम्पूर्ण अवधि (माघी पूर्णिमा) तक शिविर बनाये रखना अपरिहार्य होगा। मेला प्रशासन द्वारा कोविड-19 से सम्बंधी जारी नियमों/प्रावधानों का पालन प्रत्येक व्यक्ति/संस्था द्वारा किया जाना अपरिहार्य होगा। कोविड-19 के दृष्टिगत यदि कोई संस्था/व्यक्ति अपना शिविर इस वर्ष स्थापित नहीं करता है |

तो भविष्य के आयोजित होने वाले मेलों में संस्था/व्यक्ति की भूमि/सुविधायें पूर्व के वर्षों की भांति यथावत रहेगी। सुविधा पर्ची,भूमि आवंटन के 02 दिन बाद निर्गत की जायेगी।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.